Career Tips: लेंगवेज कोर्स की है डिमांड, इस भाषा को बनाएं अपना कॅरियर

भारत और इटली के आपस में मजबूत आर्थिक व राजनीतिक संबंध हैं। यही वजह है कि इन दोनों देशों के बीच बिजनेस पार्टनरशिप काफी अच्छी है और इटली ने भारत में बड़े पैमाने पर निवेश भी किया है।

यही नहीं इटली की कई बड़ी कंपनियों जैसे फिएट, पिआजियो, न्यू हॉलैंड ट्रैक्टर, बेनेटन इंडिया, एनसाल्डो आदि का भारत में काफी बड़ा बाजार है। यह भी एक दिलचस्प तथ्य है कि इटैलियन दुनिया में चौथी सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली भाषा है। ऐसे में यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि इटैलियन लैंग्वेज भारतीय लोगों के लिए रोजगार की भाषा के रूप में उभरकर सामने आई है।

रोहित बजाज
असिस्टेंट प्रोफेसर,जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी
एसेंचर, अमेजन, टीसीएस, इंफोसिस जैसी कंपनियों में इटैलियन के जानकारों की मांग रहती है
यहां से कर सकते हैं शॉर्ट और लॉन्ग टर्म कोर्स

डीयू से पार्ट टाइम सर्टिफिकेट, डिप्लोमा और एडवांस डिप्लोमा के अलावा बीए ऑनर्स, एमए और पीएचडी कर सकते हैं। इसके अलावा जामिया मिलिया इस्लामिया में एक वर्षीय कोर्स, जेएनयू में वन ईयर पार्ट टाइम डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स हैं। इटैलियन एम्बैसी से जुड़ा द इटैलियन कल्चरल सेंटर दिल्ली स्थित बेस्ट इंस्टीट्यूट है। मुंबई यूनिवर्सिटी, इंडो-इटालियन चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री और बीएचयू से भी इसके कोर्स किए जा सकते हैं।
वित्तीय मदद भी उपलब्ध है

हर साल इटली सरकार अपने विदेश मंत्रालय के माध्यम से इटैलियन भाषा की पढ़ाई करने वाले स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप देती है। हर साल कई भारतीय स्टूडेंट्स इटली भाषा में अपनी लैंग्वेज स्किल्स को बेहतर करने के लिए स्कॉलरशिप लेकर इटली जाते हैं। विदेश मंत्रालय द्वारा दी जाने वाली लैंग्वेज स्कॉलरशिप 3 से 6 महीने की होती है। इटैलियन गवर्नमेंट भी हर महीने स्टूडेंट्स को 900 यूरो स्कॉलरशिप के रूप में देती है।

मजबूत हैं संभावनाएं
बैंकों, फिएट, बेनेटन, लॉयड, फरारी, मारकोनी और पिनाकल जैसी इटैलियन कंपनियों ने हमारे देश में अपने बिजनेस स्थापित किए हैं और इन्हें इटैलियन लैंग्वेज जानने वाले कर्मचारियों की तलाश रहती है। इटैलियन भाषा में स्पेशलाइजेशन के बाद आप दिल्ली, मुंबई, पुणे, बेंगलुरु, चेन्नई, गुड़गांव, नोएडा, हैदराबाद जैसे देश के बड़े शहरों और दूसरे हिस्सों में अपने लिए इस भाषा से जुड़े जॉब्स हासिल कर सकते हैं।

एसेंचर, अमेजन, टीसीएस, इंफोसिस जैसी नेशनल और इंटरनेशनल कंपनियों में भी इटैलियन जानने वाले कर्मचारियों की मांग रहती है। आउटसोर्सिंग ने भी एमएनसी, बीपीओ और केपीओ के कई क्षेत्रों में इस लैंग्वेज के स्पेशलिस्ट की मांग को बढ़ाया है। इंटरप्रिटर, ट्रेनर, प्रूफरीडर और कंटेंट राइटिंग जैसे पारंपरिक क्षेत्रों में भी अच्छे मौके हैं जिनका फायदा आप उठा सकते हैं।
(इस लिंक (Acting Tips Video) पर क्लिक कर देखें एक्टिंग से संबंधित कई टिप्स)

NOTE- अगर आप हमारे वेब पोर्टल या उसके लिए कोई सुझाव देना चाहते हैं या फिर न्यूज देना चाहते हैं तो आप हमें मेल भी कर सकते हैं- rkztheatregroup@gmail.com और हमारा व्हाट्सएप नंबर- 08076038847 पर भी हमसे जुड़ सकते हैं। आप हमारे फेसबुक पेज और यूट्यूब चैनल को भी फॉलो कर सकते हैं।
Career Tips: लेंगवेज कोर्स की है डिमांड, इस भाषा को बनाएं अपना कॅरियर Career Tips: लेंगवेज कोर्स की है डिमांड, इस भाषा को बनाएं अपना कॅरियर Reviewed by Rkz Theatre Team on June 29, 2018 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.